आप सभी समाजबंधूओ ओर चिंतको को दीपक सोनी का भारतीय स्वर्णकार सघं परिवार की ओर से नमस्कार

आप सभी समाजबंधूओ ओर चिंतको को दीपक सोनी का भारतीय स्वर्णकार सघं परिवार की ओर से नमस्कार

आप सभी समाजबंधूओ ओर चिंतको को दीपक सोनी का भारतीय स्वर्णकार सघं परिवार की ओर से नमस्कार🙏🙏🙏जैसा कि हम सभी जानते हे ,कि वर्तमान मे कितने ही सामाजिक सगंठन हे जो भारत के विभीन्न क्षेत्रो मे समाजहितेषि योजनाओ ओर कार्यो को लेकर विभीन्न प्रकल्पो के माध्यम से कार्यरत हे जिसमे सामाजिक समरसता को लेकर सामुहिक विवाह ,परिचय सम्मेलन,मंदिर ,धर्मशाला निर्माण ओर अपने आराथ्य की जयंति के माध्यम से सामाजिक एकता का प्रयास अपने अपने स्तर पर कर रहे हे ,कुल मिलाकर देखा जाए तो सभी सामाजिक सगंठनो के एक ही उद्देश्य हे ,ओर भी क्षेत्र हे शिक्षा ओर स्वास्थ जहा कुछ धन से सपंन्न ओर सामाजिक विचारो के बंधू अपने स्तर पर प्रकल्प संचालित करते हे ,जिससे समाज मे सक्रियता बनी रहती हे ,।इसी तरह भारतीय स्वर्णकार सघं का भी उद्देश्य सामाजिक विकास उद्देश्य पर यह केवल वर्तमान मे भविष्य को लेकर व्यवसायिक क्षेत्र मे समाज के आर्थिक लाभ ओर समाज के व्यवसायिक हितो कै लिए क्रियाशिल हे ओर व्यवसायिक क्षेत्रो के अपने प्रकल्पो को पुरे देश मे अधिकतर स्थानो पर समाज के सहयोग से संचालित करता हे ,इसकी ना तो किसी सगंठन से प्रतिस्पर्धा की सोच हे ना ही किसी को काटकर आगे बढने की इच्छा ,बस सगंठन तो चाहता हे कि सभी सामाजिक हितेषि सगंठन अपने अपने माध्यम ओर आपसी सहयोग से समाज के सर्वागिण विकास हेतू कार्य करते रहे ,ओर इसी तरह भारतीय स्वर्णकार सघं भी अपने व्यवसाय के क्षेत्र मे अनवरत बढते हूऐ ,अन्य ऐसे सगंठनो के बीच मजबूति के साथ खडा हे जो हमारे समाज का ना तो हिस्सा हे ओर ना ही किसी अन्य समाज का पुश्तेनी सव्वर्णकारी व्यवसाय ,फिर भी एक ध्यान देने वाली बात हे जिसे गभींरता से हमे लेना चाहिऐ ,कि यह ऐसे ऐसे सगंठन हे अपने व्यवसाय पर एकछत्र एकाधिकार करना चाहते हे ,जो हमारे कार्य ओर व्यवसाय की दिशा बदलने का विचार रखते हे ,सीधी भाषा मे हम कह सकते हे जिस प्रकार से हर व्यवसायिक क्षेत्र की एक वर्किगं कमेटी होती हे जो केंद्र द्वारा निर्मित कि जाती हे ओर इसी वर्किगं कमेटी के द्वारा जिस क्षेत्र कि कमेटी होती हे ,उसी क्षेत्र के विकास ओर योजनाओ ,ओर व्मवसायिक लाभ के लिए केंद्र को प्रपोजल तैय्यार कर देती हे जिससे उस क्षेत्र के व्यवसाय से जुडे लोगो को मानना होता हे ,तो क्या ऐसी वर्किगं कमेटी हमारे व्यवसाय ओर ओर हमारा परिवार का भविष्य तय करेगी जो हमारी हितेषि कभी हो नही सकती ,मतलब आप समझ सकते है ऐसे कोन अन्य लोग है जिन्होने कार्पोरेट जगत के बडे बडे व्यवसायियो के साथ मिलकर हमारे कार्य कि निती निर्धारण तय करेगें ।क्या हम सभी चाहते हे कि हमारे कार्यो ओर पुश्तेनि कला के जनको को कोई ओर अपना नाम देकर हमे भटकने पर मजबूर कर दे ,अगर नही तो एक कदम आगे बढे ओर विचार करे ,कि आज कि हमारी आवश्यकता क्या हे ओर इस व्यवसायिक क्षेत्र मे भारतीय स्वर्णकार सघं किस तरह अपनी भुमिका समाजहित मे निभा रहा हे ,मेरा सभी समाजबंधू ,व्यवसायिक सूनारबंधुओ से आग्रह कि सभी अपने अपने सामाजिक समरसता के क्षेत्र मे हम कार्य करे ओर जुडे पर हमारे व्यवसायिक क्षेत्र मे सक्रिय ओर कार्यरत ,bss से भी जूडे ।सभी अपने विवेक से निर्णय ले ,ओर अगर मेरे विचारो से कुछ गलत लिखा हो तो उसे नजर अंदाज करे ।🙏🙏🙏🙏मे पहले हर उस सगंठन का हिस्सा हू जो समाजहित मे अपनी सेवाऐ दे रहे हे ।

Share this post